Breaking News
Home / झारखण्ड / झारखण्ड प्रदेश बहुजन समाज पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष द्वारा आज प्रेस विज्ञप्ति जारी 
झारखण्ड प्रदेश
झारखण्ड प्रदेश बहुजन समाज पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष द्वारा आज प्रेस विज्ञप्ति जारी 

झारखण्ड प्रदेश बहुजन समाज पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष द्वारा आज प्रेस विज्ञप्ति जारी 

Spread the love

झारखण्ड प्रदेश बहुजन समाज पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शत्रुघ्न कुमार शत्रु ने आज दिल्ली में आयोजित राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक से लौटने के बाद प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया है कि आगामी 17 अगस्त 2017 को हजारीबाग के बरही में (प्रथम जोन) व 22अगस्त 2017 को धनबाद रणधीर वर्मा चौक (द्वितीय जोन ) में बी एस पी राष्ट्रीय अध्यक्ष मा०बहन सुश्री मायावती जी द्वारा सहारनपुर समेत समाज के कमजोर वर्गों के हितों को नहीं उठाने देने के मोदी सरकार के मंत्रियों व उप सभापति के तानाशाही रवैयै के खिलाफ राज्य सभा की सदस्यता से इस्तीफा देने को मजबुर करने व मोदी व रघुबर सरकार के घोर बहुजन विरोधी नीतियों के पर्दाफाश करने को ले कर एक दिवसीय धरना/प्रदर्शन किया जाएगा।उक्त धरना/प्रदर्शन में सम्बंधित जोन के विधान सभा,जिला,जोन व प्रदेश कमिटी के सभी पदाधिकारी व विधान सभा/लोक सभा क्षेत्रों के पूर्व प्रत्याशी छोटे/बड़े वाहनों में पार्टी समर्थकों व कार्यकर्ताओं के साथ भाग लेंगे।
ज्ञातव्य है कि आगामी 10 अगस्त 2017 को द्वितीय जोन मुख्यालय धनबाद के परिसदन भवन में सभी 12 जिलों के पदाधिकारियों की बैठक में 22 अगस्त 2017 को धनबाद रणधीर वर्मा चौक पर आयोजित विशाल धरना/प्रदर्शन को सफल बनाने पर विचार किया जाएगा।

विज्ञप्ति में प्रदेश अध्यक्ष ने कहा है कि केन्द्र की मोदी व राज्य की रघुबर सरकार भारतीय लोकतांत्रिक व्यवस्था के लिए खतरे का सबब बनती जा रही है।विपक्ष की आवाज को दबाने ,सरकारी उपक्रमों को नीजी क्षेत्रों में बेचने,हर स्तर पर आरक्षण को समाप्त करने का प्रयास,पालतु व गुलामों को ऊँच्चे पदों पर बैठा कर बहुजन समाज को भ्रमित करने का खेल यह प्रमाणित करता है कि भारतीय लोकतंत्र हिटलर के इन निकृष्ट मानस पुत्रों की वजह से संक्रमणकाल से गुजर रहा है।अफसोस की बात है कि इन धूर्त,पाखण्डी,जातिवादी,जानवरवादी,झुठे व जुमलेवादियों के चक्कर में आ कर पिछड़े / दलित/आदिवासियों के दलाल किस्म के कुछ चाटुकार नेता व कार्यकर्ता चंद रुपयों व पदों के लालच में समाज को बेच रहे हैं।

आज संसदीय लोकतंत्र में अपनी जड़ों से जुड़े मुद्दों को नहीं उठाने देने के खिलाफ माननीया बहन जी ने राज्य सभा की सदस्यता से इस्तीफा दे कर जो नजीर पेश किया है, वह भारत में लोकतंत्र को जिन्दा रखने के लिए एतिहासिक कदम; निश्चित रुप से आज ऐसे साहसिक व निर्भिक कदम उठाने वालों नेताओं की ही जरुरत है।

हम झारखण्ड प्रदेश के समस्त पार्टी कार्यकर्ताओं/पदाधिकारियों व प्रदेशवासियों से माननीय बहन जी के नेतृत्व में बहुजन व सर्वजन समाज की लड़ाई लड़ने के लिए बी एस पी के बैनर तले गोलबन्द होने की अपिल करते हैं।

This post was written by sanjay dash.

The views expressed here belong to the author and do not necessarily reflect our views and opinions.

About sanjay dash

Check Also

जम्‍मू-कश्‍मीर में अनुच्छेद 35 ए

जम्‍मू-कश्‍मीर में अनुच्छेद 35 ए को हटाने की खबरों से राजनीतिक उथल पुथल

Spread the loveजम्‍मू-कश्‍मीर राज्य में अनुच्छेद 35 ए को हटाने की खबरों से राजनीतिक उथल …