Breaking News
Home / ओम प्रकाश रमण / ट्रांसप्लांट के क्षेत्र में पहली बार जियॉन का दोनों नए हाथ लगाए
ट्रांसप्लांट
ट्रांसप्लांट के क्षेत्र में पहली बार जियॉन का दोनों नए हाथ लगाए

ट्रांसप्लांट के क्षेत्र में पहली बार जियॉन का दोनों नए हाथ लगाए

Spread the love

मानव अंगों के ट्रांसप्लांट के क्षेत्र में यह बहुत बड़ी उपलब्धि

बॉल्टमॉर में रहने वाले 10 साल के जियॉन हार्वे दुनिया के पहले इंसान हैं, जिनके दोनों हाथों का सफलतापूर्वक ट्रांसप्लांट किया गया। मानव अंगों के ट्रांसप्लांट के क्षेत्र में यह बहुत बड़ी उपलब्धि मानी जा रही है। जुलाई 2015 में 8 साल के जियॉन का ट्रांसप्लांट किया गया था। इस बात को अब 2 साल हो चुके हैं और जियॉन के दोनों हाथों बिल्कुल स्वस्थ हैं।

जियॉन के इस ट्रांसप्लांट के नतीजे 19 जुलाई 2017 को एक मेडिकल जर्नल में प्रकाशित हुए। इस ऑपरेशन में शामिल डॉक्टरों के इस ट्रांसप्लांट को सफल बताया है। उनका कहना है कि इस तरह के बाकी बच्चों को भी इस तकनीक से मदद मिलेगी। जियॉन जब 2 साल का था, तब घाव की सड़न बढ़ने के कारण उसे सेप्सिस हुआ और उसके दोनों हाथ-पैर काटने पड़े थे। इसके बाद 6 साल तक जियॉन को कृत्रिम हाथ-पैरों का इस्तेमाल करना पड़ा।

चिकित्सकों का कहना है कि बच्चे के मस्तिष्क ने हाथों को स्वीकार कर लिया है। फिलाडेल्फिया के चिल्ड्रेन हॉस्पिटल में हार्वे का उपचार करने वाले चिकित्सकों की टीम की सदस्य रहीं सांड्रा अमराल ने कहा, ‘अब वह बल्ला पकड़ने और घुमाने में सक्षम है तथा वह अपना नाम स्पष्ट रूप से लिख ले रहा है।’ हाथों का पहला प्रतिरोपण पहली बार 1998 में किया गया था, लेकिन हार्वे सबसे कम उम्र के हैं जिनके हाथों का प्रतिरोपण हुआ है। उनका प्रतिरोपण 2015 में हुआ है।

दुनिया में अबतक 100 लोगों के हाथ या फिर बांह का प्रतिरोपण किया जा चुका है। 1998 में पहली बार एक वयस्क को प्रतिरोपण की सहायता से नया हाथ लगाया गया था। फिर साल 2000 में एक शख्स के दोनों हाथों को ट्रांसप्लांट की मदद से बदला गया। दुनिया के कई देश सावधानी से चुने गए मरीजों पर प्रतिरोपण के ऐसे प्रयोग करते हैं। इस क्षेत्र में नई-नई तकनीकें आ रही हैं और नतीजों के बेहतर होने की उम्मीदें बढ़ रही हैं।

This post was written by Rajni Raman.

The views expressed here belong to the author and do not necessarily reflect our views and opinions.

About Rajni Raman

Check Also

13 पॉइण्ट विभागीय रोस्टर के ख़ि‍लाफ़ देश भर के एससी/एसटी/ओबीसी सड़क पर

Spread the love24Sharesआज के मौजूदा भाजपा सरकार में ‘रोस्टर’ शब्द भी दफ्तरों से निकल कर …