प्रमुख बंदरगाहों को 53 करोड़ रुपये का नुकसान कैग

नयी दिल्ली, 23 जुलाई (भाषा) सरकारी अंकेक्षक कैग ने कहा है कि मुंबई व कोलकाता सहित देश के कुछ प्रमुख बंदरगाहों को अंडर रिकवरी या राजस्व नुकसान मद में 53.5 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है।

नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) ने अपनी एक नवीनतम रपट में यह जानकारी दी है। इस रपट को हाल ही में संसद में पेश किया गया।

रपट में कहा गया है कि मुंबई बंदरगाह एमबीपीटी संशेधित पार्किंग शुल्क नहीं वसूल पाया जिससे बीते छह साल में उसे 23.10 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ। वहीं कोलकाता बंदरगाह की अंडर रिकवरी 13.36 करोड़ रुपये रही।

कैग की आडिट में पाया गया कि ग्रेटर मुंबई नगर निगम एमसीजीएम समान स्थलों के लिए अधिक पार्किंग शुल्क वसूलता है और अपनी दरों को समय समय पर बदलता रहता है। एमबीपीटी को होने वाले नुकसान की गणना निगम की दरों के आधार पर ही की गई है।

कोलकाता पोर्ट के अलावा विशाखापत्तनम पोर्ट ट्रस्ट भी भारतीय रेलवे से 4.64 करोड़ रुपये की वसूली नहीं कर पाया।

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

नकली नोटों को छांटने के लिए मशीनें लीज पर लेगा आरबीआई

मौद्रिक नीति समिति के सदस्यों को प्रति बैठक मिलेगा 1.5 लाख रुपये