Breaking News
Home / संजय दास /  रांची का सुसाइड !

 रांची का सुसाइड !

Spread the love

सुसाइड उस बच्चे ने नहीं किया। मर गया पुलिस का महकमा! इनके गंदे लाश गमकते हैं। 
यही कारण है कि दारोगा या इससे ऊपर का कोई पुलिस वाला कभी मारा जाता है, तो जनता की सच्ची सहानुभूति शायद ही उन्हें मिल पाती है।

            पुलिस यदि, कलंक मुक्त होना चाहती है तो ऐसे अवसरों पर उन्हें चुप नहीं रहना चाहिए। एसोसिएशन को अपने सम्मान के लिए भी आगे आना चाहिए ।

      पुलिस के अपने एसोसिएसन को स्वयं चाहिए के वे  C M झारखण्ड से अनुशंसा करे कि दरोगा,थाना चुटिया, रांची और डी एस पी,सिटी  रांची को पुलिस सेवा से बर्खास्त कर उन दोनों के विरुद्ध हत्या का केस चलाया जाय।

     पुलिस एसोसिएशन यदि ऐसा नहीं करती है तो   हर मानवीय संवेदना को समझने वाला श्री रघुवर दास इन दोनों  कर्मियो को बर्खास्त कर उनके खिलाफ  Departmentally and Juridically  Proceeding चलाई जाय।

      मुख्यमत्री जी, आप वैसे भी कड़क मिजाज के जाने जाते है। अभी अपने पलामू के जिला शिक्षा अधिक्षक को बर्खास्त करने का आदेश दिया है। आशा है यथोचित कारवाई शीघ्र करने कि करेंगे। 

           इस लोमहर्षक घटना से रांची ही झारखण्ड आहत है !

This post was written by sanjay dash.

The views expressed here belong to the author and do not necessarily reflect our views and opinions.

About sanjay dash

Check Also

गोपाल सिंह भोक्ता ने हाई कोर्ट को बताया वह नहीं है 25 लाख का इनामी नक्सली

Spread the love16Sharesचतरा : प्रेम यादव : सिमरिया चतरा के विधायक गणेश गंझू  के भाई …