Breaking News
Home / न्यूज़ पटल / सत्य समाज में बहिष्कृत जीवन जीता रहा है 

सत्य समाज में बहिष्कृत जीवन जीता रहा है 

Spread the love
  • 3
    Shares

दस ब्राह्मण जा रहे थे.. सफर करते करते थक गए पर भोजन नही मिला,,, और जिंदा रहने के लिए भोजन बहुत जरूरी था…..
तभी एक कौआ आया जिसे मारकर खाने का प्लान बना.. उसमे एक सच्चे ब्राह्मण ने विरोध किया और धमकी दी कि अगर आप लोगो ने कौआ का मांस खाया तो मै जाकर गांव में बता दूंगा और सबका बहिष्कार करवाऊंगा…

यह सुनकर सभी ब्राह्मण एक दूसरे की ओर देखे और उस विद्रोही ब्राह्मण को मनाने लगे,,, परन्तु वह नही माना..

और अंत मे उन्होने मांस खाया और खाने के बाद कान में कुछ कहा…

अब दसो ब्राह्मण साथ में चल दिए और गांव तक पहुंचे तभी सात्विक ब्राह्मण ने बताया मै आप लोगों को समाज से बहिष्कृत करवाऊंगा,,,,,

यह सुनकर बाकी 9 ब्राह्मण जोर जोर से चिल्लाने लगे.. हे दुष्ट तूने यह क्या किया, कौए का मांस भक्षण किया!! ब्राह्मण को कलंकित किया.. तूने ब्राह्मण धर्म का अपमान किया है,,,,इसलिए तुझे ब्राह्मण बने रहने का कोई अधिकार नही है,,,,

यह सब आवाज सुनकर पूरा गांव आ गया और बेचारे सात्विक ब्राह्मण पर तंज कसने लगे और वह बेचारा सच कहता रह गया परन्तु किसी ने सही नही माना,,, सब ने बोला ये 9 लोग झूठ नही बोलेगे… इस तरह उसके सत्य को अस्वीकार्य कर दिया गया और उसे समाज से बहिष्कृत कर दिया गया…

तब से सत्य समाज से बहिष्कृत जीवन जी रहा है और असत्य संगठन के दम पर मौज कर रहा है!!

असत्य हमेशा गिरोह बनाता है और सत्य हमेशा अकेला अपमानित होता है…

इसी तरह गिरोह सभी सबूतों को चिल्ला चिल्ला कर नष्ट कर देता है और लोगो के दिमाग मे असत्य स्थापित करने मे कामयाब हो जाता है…

भारत मे जातियो ने गिरोह बनाया और वर्चस्व के लिए समाजवाद, राष्ट्रवाद आदि के नाम पर खुद के अय्याशी के साधन एकत्रित किया और जिसने यह गिरोह को बेनकाब किया उसे बहिष्कृत कर दिया गया, मार दिया गया या पागल घोषित कर दिया गया…

सत्य बहुत मुश्किल से जीतता है षडयंत्र हमेशा सफल होता है,,, इसलिए हमारे शास्त्रों मे शाम दाम दंड भेद का बहुत बखान मिलता है…

झूठ को सही साबित करने के लिए ग्रंथ लिखे गए और सत्य को विलुप्त करने के लिए अपमानित संज्ञा गढी गयी…

गिरोह लाबी बनाकर रहता है और सत्य इन लाबियो मे दम तोड़ देता है…

राजनीति और षडयंत्र मिलकर सत्य को निगल जाते हैं और आम जनमानस उसी को रामराज मानता है!

About Oshtimes

Check Also

झामुमो आई.टी. सेल्स

आई.टी. सेल्स : झारखंड में सोशल-मीडिया की लडाई में झामुमो सब पर भारी

Spread the love285Sharesझारखंड में फासीवादियों ने जहाँ एक तरफ गोदी मीडिया के माध्यम से अपने …