Breaking News
Home / न्यूज़ पटल / ADVT / १५ अगस्त की शुभकामनाये : रूना मिश्रा शुक्ला एवं सुमीत कुमार सिंह
१५ अगस्त की शुभकामनाये
१५ अगस्त की शुभकामनाये : रूना मिश्रा शुक्ला एवं सुमीत कुमार सिंह

१५ अगस्त की शुभकामनाये : रूना मिश्रा शुक्ला एवं सुमीत कुमार सिंह

Spread the love
  • 1
    Share

१५ अगस्त की ७० वर्षगांठ मानाने जा रहे है

आप सभी को १५ अगस्त की शुभकामनाये देता हु और भगवान से प्राथना करता हूँ की वो आपको हमेशा स्वस्थ रखे । जैसा कि हम सभी जानते है की आज हम १५ अगस्त की ७० वर्षगांठ मानाने जा रहे है हम जानते है कि १५ अगस्त का नाम भारत के इतिहास में स्वर्णिम अक्षरो में रहेगा । जैसा कि हम सभी जानते है कि हम १५ अगस्त १९४७ को आज़ाद हुवे थे । उससे पहले हम अंग्रेज़ो के अधीन थे, वो अंग्रेज जो हम पर अत्याचार करते थे ।

हमारे देश में कही देशभक्तो ने जनम लिया और हमारी आज़ादी के लिए लिए कही सूर बीरो ने अपना बलिदान दिया । हमे आज़ादी बड़े कठिनाइयों से प्राप्त हुवी है । हमे आज़ादी की अहमियत समझनी चाहिये और देश को प्रगतिशील बनाये रखना चाहिए । आज हम अपने घरो में अपने देश में आज़ाद घूमते है ये उन्ही सूरवीरों का काम है जिन्होंने देश के लिए अपना बलिदान दिया । स्वतंत्रता दिवस को हम बड़े गर्व के साथ मानते है १५ अगस्त को भारत के प्रधानमंत्री लाल किले पर तिरंगा फहराते है और भारतीय सेना इस दिन इंडियागेट पर परेड करती है । इस दिन भव्य कार्यक्रमो का आयोजन होता है, भारत के प्रधानमंत्री अपने भाषण से सारी जनता को संबोधित करते है । एक बार में फिर से आप सभी को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक बधाई देता हु।

note: 

भारतीय सशस्त्र बल देश की सुरक्षा के सामने उत्पन्न किसी भी चुनौती से निपटने में सक्षम हैं। उन्होंने रेखांकित किया कि 1962 के युद्ध से सबक लिया गया है।

कुछ लोगों की हमारी संप्रभुता और अखंडता पर नजर है। लेकिन मुझे पूरा विश्वास है कि हमारे वीर सैनिक हमारे देश को सुरक्षित रखने की क्षमता रखते हैं, चाहे चुनौतियां पूर्वी सीमा पर हों या पश्चिमी सीमा पर, आज शांति, सद्भाव और मेलजोल की आवश्यकता है.

About Oshtimes

Check Also

सत्ता के बूट

मौजूदा सत्ता के बूट (जूते) भारतीय संविधान से भी मजबूत

Spread the love68Sharesक्या मौजूदा सत्ता के बूट (जूते) भारतीय संविधान से भी ज्यादा मजबूत हैं  …