Breaking News
Home / झारखण्ड / मनभावन मौसम खतरे का कहर

मनभावन मौसम खतरे का कहर

Spread the love
  • 10
    Shares

रांची : संजय दास: झुलसने वाली गर्मी के बाद वर्षा ऋतु ऐसी ऋतु है जो लगभग सभी लोगों की पसंदीदा होती है, क्योंकि झुलसा देने वाली गर्मी के बाद ये राहत का एहसास लेकर आती है। लेकिन कहा जाता है कि अति सर्वत्र वर्जयते उसी तरह से अधिक वर्षा होने से यही मनभावन मौसम खतरे का कहर भी लेकर आती है ।

पिछले कई दिनों से लगातार वर्षा होने से पूरे झारखण्ड के साथ साथ पुरे देश के लगभग सभी क्षेत्र में पानी ही पानी देखे जा रहे है । लोगो के मुंह मे बस एक ही बात है कि हे ऊपर वाले अब बस बंद करे । पूरे झारखंड, बिहार, बंगाल, उड़ीसा, उत्तर प्रदेशs आदि राज्यों में लगातार बारिश के कारण लोगो को काफ़ी परेशानीयों का सामना करना पड़ रहा है ।  हर जगह की सड़कों में पानी का ही जमाव है , कई जगहों में तो बड़े बड़े गड्डों के कारण जल जमाव होने से लोगो मे और काफी दिक्कतें हो रही है सभी के जुबान पर बस एक ही बात आ रही है कि यहाँ के जनप्रतिनिधियों की देन है ये सड़के । आपको बता दे कि इस बारिश में अच्छे से अच्छे घरो को इस पानी के आगे  झुकना पड़ रहा  है । मिट्टी के घरो में रहने वालों को काफी दिक्कते होती है । कही कही तो घर भी गिर जा रहे हैं तो कही अच्छे घरों में भी लगातार बारिश के कारण ऊपर की छत से पानी की बूंदे टपक रही है , नालियों में पानी जमाव के कारण घरो में पानी घुस जा रही है ।

लगातार बारिश के कारण पूरा जन जीवन अस्त व्यस्त हो गया है, लोगों कार्यालय आदि पहुँचने में काफी परेशानी हो रही है | लोग बहुत सावधानी के साथ या अत्यंत जरुरी है तभी घर से बाहर नकल रहे हैं, बच्चों की पढ़ाई में भी दिक्कते देखी जा रही है । इस लगातार हो रहे बारिश से सबसे ज्यादा तो निचले तबके दैनिक मजदूरों, रिक्शा टेम्पो चालकों आदि तथा रोज कमाने खाने वाले के ऊपर तो जैसे गाज गिर गया है |

 

This post was written by sanjay dash.

The views expressed here belong to the author and do not necessarily reflect our views and opinions.

About sanjay dash

Check Also

अम्बेडकर आवास योजना jharkhand

अम्बेडकर आवास योजना : सरकार ने विधवायों को उनके आवास से वंचित रखा

Spread the love46Sharesडॉक्टर भीम राव अंबेडकर की 125वीं जयंती के अवसर पर झारखंड की रघुबर …