in , ,

दिल्ली की रुकी धड़कन, कोरोना ने लोगों को घर के अंदर बंद किया तो भूकंप ने बाहर  

दिल्ली

देश की राजधानी दिल्ली आज अजीबोगरीब पसोपेश में दिखी। परिस्थिति ने एक बार फिर साबित किया कि मानव चाहे जितना मर्ज़ी हाथ-पांव चला कर ऊँची उड़ान का दंभ भरे, लेकिन प्राकृतिक जब चाहे उसे घुटने पर ला खड़ा कर सकती है। सच तो यह है कि हम जिस प्राकृतिक के साथ लोभ वश अमूमन खिलवाड़ करने से नहीं चूकते, असल में हम उसके सामने बौने हैं। जिस दिल्ली को देश का महानगर होने का गुमान था आज उसकी जान हलक में अटक चुकी थी।

देश की राजधानी दिल्ली जो पहले से ही कोरोना का क़हर झेल रही है। जहाँ 1025 कोरोना संक्रमित के पोसिटिव मामले हैं, 19 की मौत हो चुकी है। जो देश भर में चौथे स्थान पर है और बढ़ने के तेज सिलसिले ने वहां के लोगों को घर के अंदर महफूज रहने को विवश कर दिया है। कोरोना के मद्देनजर 10 और हॉट स्पॉट को दिल्ली पुलिस द्वारा सील किया गया है। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने खुद पूरी दिल्ली में कुल 43 हॉट स्पॉट को ऑपरेशन शील्ड के तहत सील करने की जानकारी साझा किया है। और लोगों से घरों के भीतर रहते हुए मास्क लगाने की अपील की है।

यकायक वहाँ शाम को 3.5 तीव्रता वाली भूकंप के झटकों ने अफरा-तफरी मचा दिया। महज चाँद पलों में पूरी दिल्ली बाहर सड़कों-मैदानों पर आने को विवश थी। दरअसल पहले से कोरोन के खौफ़ के वजह से घरों में भीतर रह रहे लोग पहली बार समझ नहीं पा रहे थे वह घर के अंदर रहे या बाहर जाए। भूकंप का केंद्र उत्तरी तथा उत्तर पूर्वी दिल्ली में ज़मीनी सतह से 8 किलोमीटर गहराई पर था। हालांकि अभी तक हताहत या जान माल के नुक़सान की कोई खबर सामने नहीं आई है। शुक्र है कि  सब ठीक है और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीटर के माध्यम से लोगों की सुरक्षा की कामना की है। 

-अंकित कुमार 

What do you think?

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

कोविद -19 प्रभाव: चिकनी उत्पादन सुनिश्चित करने के लिए फार्मा खिलाड़ी हाथ मिलाते हैं

देश में जारी कोरोना संकट के बीच राहुल गांधी ने मोदी सरकार से की यह अपील…