Breaking News
Home / न्यूज़ पटल

न्यूज़ पटल

न्यूज़ पटल main news category

ओस कण पर जब उदीयमान सूर्य की किरणें पड़ती हैं, ओस कण से सतरंगी किरणें निकलने लगती हैं जो एक मनोहारी दृश्य प्रस्तुत करता है साथ ही शीतल सुखद एहसास भी प्रदान करता है।
इन्हीं उद्देश्यों की पूर्ति हेतु ओस टाइम्स आपके समक्ष प्रस्तुत है जो समाचार, विचार, समसामयिक लेख, चिंतन, मनोरंजन, स्वास्थ्य, ज्योतिष, वास्तु, खेल के सभी आयामों का खजाना अविराम उपलब्ध कराता रहेगा।
तभी तो बदलते परिवेश की ख़बरें महिला जगत, बाल जगत की खबरें नए नए शोध एवं खोज की खबरे भी ओस टाइम्स का खास आकर्षण होगा।

 

ओस कण पर जब उदीयमान सूर्य की किरणें पड़ती हैं, ओस कण से सतरंगी किरणें निकलने लगती हैं जो एक मनोहारी दृश्य प्रस्तुत करता है साथ ही शीतल सुखद एहसास भी प्रदान करता है।
इन्हीं उद्देश्यों की पूर्ति हेतु ओस टाइम्स आपके समक्ष प्रस्तुत है जो समाचार, विचार, समसामयिक लेख, चिंतन, मनोरंजन, स्वास्थ्य, ज्योतिष, वास्तु, खेल के सभी आयामों का खजाना अविराम उपलब्ध कराता रहेगा।
तभी तो बदलते परिवेश की ख़बरें महिला जगत, बाल जगत की खबरें नए नए शोध एवं खोज की खबरे भी ओस टाइम्स का खास आकर्षण होगा।

अभाविप (ABVP) में आदिवासी छात्रों के होने के राजनीतिक मायने

अभाविप ( ABVP )

सरकार ने पारा शिक्षकों से सीधा कहा हड़ताल समाप्त किये बिना कोई बात नहीं होगी जैसे ख़बरों के बीच रांची विश्व विद्यालय छात्र संघ चुनाव में कुल 80 पदों के लिए चुनाव हुए जिसमे अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् के प्रत्यासियों ने 80 पदों में से 42 पदों में जीत कर …

Read More »

खरसावाँ गोलीकांड : आजाद भारत का झारखण्डी जलियावाला बाग़ काण्ड

खरसावाँ गोलीकांड

अलग झारखण्ड राज्य के लिए हमारे पूर्वज नौजवानों ने आजाद भारत की सबसे बड़ी शहादत ‘खरसावाँ गोलीकांड’ में दी, जिसे आनेवाली हजारों पीढियां ससम्मान याद करती रहेगी। साथ ही जब भी कभी कोई गलत मंशा से झारखण्ड में कदम रखेगा, खरसावाँ गोलीकांड के शहीदों की राजनीतिक चेतना और समर्पण से …

Read More »

आदिम जनजातियां हासिये पर: इनके हक़ के लिए बुलंद आवाज की जरूरत!

आदिम

वर्तमान झारखंड में अनुसूचित जनजाति की सूची के अंतर्गत 32 जनजातियों में से 9 आदिम जनजाति की श्रेणी में आते हैं। झारखंड में 1961 के दशक में इन जनजातियों का आबादी करीब 2,50,000 थी जो वर्तमान घटकर महज 2,00,000 के भीतर रह गई है। अद्यतन आंकड़े के अनुसार इस समय …

Read More »

झारखंड भाजपा ने स्पष्ट कर दिया कि उनका अगला मुख्यमंत्री भी गैर आदिवासी !

झारखंड भाजपा

झारखंड भाजपा ने साफ़ कर दिया कि उनका अगला मुख्यमंत्री भी अर्जुन मुंडा नहीं  -रायमुल बान्डरा  … भाजपा चुनाव प्रभारी भूपेंद्र यादव यह कहने से नहीं चुके कि झारखंड में पार्टी का मुख्‍यमंत्री चेहरा फिर होंगे  रघुवर दास, अपने आप में गहरी राजनीतिक अर्थ समेटे प्रतीत होता है। झारखण्ड में …

Read More »

ज्योतिराव फुले : क्यों दलित-आदिवासी-मूलवासी के प्रतीकों को भूल जाती है रघुवर सरकार ?

ज्योतिराव फुले स्त्री मुक्ति के द्योतक

ज्योतिराव फुले स्त्री मुक्ति के द्योतक : क्यों दलित-आदिवासी-मूलवासी के प्रतीकों याद करना भूल जाती है रघुवर सरकार ? ज्योतिराव फुले जी की पूण्यतिथि झारखंड में भी दलित संस्थाओं समेत कई अन्य सस्थानों ने मनाई, लेकिन अचंभित यह है कि झारखंड सरकार ने इन्हें याद करना जरूरी नहीं समझा। यह …

Read More »

झारखंड में बिजली की हालत करेगी रघुबर सरकार की बत्ती गुल

झारखंड में बिजली की हालत करेगी रघुबर सरकार की बत्ती गुल

झारखंड में बिजली की हालत  झारखंड में बिजली सुधार के नाम पर रघुबर सरकार लंबी-लंबी फेंकती रही हैं, कभी कहती है कि राज्य के पूरे गांवों में बिजली पहुंचा दी गई है, कभी कहती हैं कि काम जारी है, कभी कहती है कि बिजली की सेवा, नवम्बर तक सामान्य हो जायेगी, …

Read More »

कोलेबिरा उपचुनाव में एक सशक्त महिला नेतृत्व की जरूरत

कोलेबिरा उपचुनाव में एक सशक्त महिला नेतृत्व की जरूरत

कोलेबिरा उपचुनाव की सरगर्मी ने यहाँ की जनता में एक नए उम्मीद को हवा दे दी है। यहाँ के हालात चीख-चीख कर गवाही दे रहे हैं कि संकट के इस अँधेरे को नये बदलाव के बूते ही चीरा जा सकता है। कोलेबिरा विधानसभा चुनावों में अब तक पुरुष प्रधान समाज …

Read More »

जनता की भलाई के जगह अंबानी की भलाई करती मोदी सरकार

जनता की यह कैसी पेहरिदारी

महज चंद दिनों पहले जब प्रधानमन्त्री ने कथित रूप से उत्तर प्रदेश में परियोजनाओं की नींव रखने के क्रम में 50 बड़े पूँजीपतियों को सम्बोधित करते हुए कहा था कि ‘अगर नेक नीयत हो तो उद्योगपतियों के साथ खड़े होने में दाग़ नहीं लगता!’ उस समय पूरी देश की जनता …

Read More »

कविता ” माँ 

पिता का प्यार और माँ के सपनों की लिखावट हूँ मैं। हर सपनें माँ हमारी ;तुमसे शुरु होती है। क्योंकि तेरी सपनों की जीता-जागता हकीकत हूँ मैं । नौ महीने तक माँ तुने हर कष्टों को झेला , करवटे बदल बदलकर पर मैं हर पल माँ! तेरी बाँहों में खेला …

Read More »

मोदी युग में जीवनस्तर में वृधि के पैमाने के हर स्तर पर देश पिछड़ा

मोदी युग अर्थव्यवस्था

मोदी सरकार का एजेण्डा बिल्कुल साफ़ है कि लोग आपस में बँटकर लड़ते-मरते रहें और वे अपने पूँजीपति मालिकों की तिजोरियाँ भरते रहें।

Read More »

सुदेश महतो सरकार में रहकर भी सीएनटी/एसपीटी के संशोधन को रोकने में नाकाम

सुदेश महतो

सिल्ली और गोमिया को लेकर सत्ताधारी दल भाजपा और आजसू में टकराव तय है वहीं, विपक्ष एकजुट हो चुनाव में झामुमो को समर्थन देगा। गुरुवार को की घोषणा के बाद इन दोनों ही क्षेत्रों में राजनीतिक गोलबंदी तेज होने के आसार हैं। सिल्ली में झामुमो विधायक अमित महतो और गोमिया …

Read More »

आदिवासियों की जमीन पर देश का सबसे ज्यादा खनिज फिर भी इतने गरीब क्यों?

यह सोचने की बात है कि जिन आदिवासियों की जमीन पर देश का सबसे ज्यादा खनिज है, वे इतने गरीब क्यों हैं? आंदोलनकारियों को जेल में डाल दिया जा रहा है। अभी जो विस्थापन हो रहा है, वह विकास के नाम पर नहीं बल्कि लूट के नाम पर हो रहा …

Read More »

झारखण्ड में फिर खिला कमल इस बार दोगुनी हुई बिजली की क़ीमत

झारखण्डमें फिर खिला कमल इस बार दोगुनी हुई बिजली की क़ीमत। बिजली की नई दरें घोषित, 1 मई से लागू हो जायगी। अब झारखण्डमें जनता महंगाई की तिहरी मार झेलेगी। बिजली की दरों में हुई भारी वृद्धि। आम उपभोक्ताओं पर बढी बोझ। 200 यूनिट से ज्यादा बिजली उपभोग करने पर …

Read More »

मनरेगा : झारखण्ड राज्य में भाजपा नेतृत्व वाली सरकार की ढोल का पोल

रघुबर दास सरकार की बड़ेबोल के बावजूद झारखण्ड राज्य में मनरेगा मज़दूरों को समय पर भुगतान न मिलने जैसे कई अधिकारों का व्यापक स्तर पर उल्लंघन हुआ है। भाजपा नेतृत्व वाली झारखंड सरकार राज्य की जनता को रोजगार देने के प्रति अपनी प्रतिबद्धता दर्शाने के लिए हर हाथ को काम …

Read More »

इतिहास के क्रूर पन्नों में हमारी सिसकियां गायब हैं: सूरज कुमार बौद्ध

इतिहास

इतिहास के क्रूर पन्नों में भीमा कोरेगांव युद्ध तथा खरसावां गोली कांड की शहादत : सूरज कुमार बौद्ध जबकि पूरा विश्व नए साल के जश्न में डूबा हुआ है वहीं कुछ ऐसे घटनाएं भी हैं जो हमारे रगों में जोश और उद्गार की लहरें उत्पन्न करती हैं। हजारों सालों से …

Read More »

गिरिडीह, जिला विधिक सेवायप्राधिकार द्वारा स्थापित उत्कर्ष छात्रावास मे आयोजित कार्यक्रम सम्पन्न  

विरहौर बच्चो के कल्याण के लिए स्थापित उत्कर्ष छात्रावास मे आज दिनांक 17-12-2017 को प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश गिरिडीह की अगुवाई मे जिला विधिक सेवाये प्राधिकार द्वारा आयोजित कार्यक्रम मे जिला जज प्रथम श्री सुनील कुमार सिंह डालसा सचिव बी बी गौतम सब जज द्वितीय एस के महाराज रजिस्ट्रार …

Read More »

आरक्षण : सामाजिक परिवर्तन का हथियार – दुर्गेश यादव “गुलशन”

बाबा साहेब अम्बेडकर/ आरक्षण

आज उदारीकरण और खुली अर्थव्यवस्था का दौर चल रहा है जिसमें समाज व देश को कई फायदे हुए हैं। इसके साथ ही निजीकरण की व्यवस्था भी समाज में व्याप्त हो रही है। निजी क्षेत्र में कार्य करने के घंटे बड़े तथा वेतन कम हुआ है। कार्य करने की सुविधाएं भी समान नहीं होती है। इसके साथ साथ जाती व लिंग के आधार पर भेदभाव भी अधिक होता है।

Read More »

बाबासाहब अम्बेडकर और बुद्ध जैसे महामानव को ही सभ्यता डालते हैं

बाबासाहब

बाबासाहब: 6 दिसंबर महापरिनिर्वाण दिवस एवं संकल्प दिवस वर्ष 2017 कल्पप्रवर्तक, बहुजन समाज एवं महिलाओं के मुक्तिदाता धम्मचक्र प्रवर्तक डॉ बाबासाहब आंबेडकर महापुरुषों की श्रेणी में आगे देखते हैं, क्योंकि नेताओं के कार्यकाल 25 से 30 साल होते हैं, महापुरुषों के कार्यकाल 200 से 300 साल तक चलता है, लेकिन …

Read More »

स्त्री मुक्ति के पक्षधर व जाति उन्मूलन आन्दोलन के योद्धा ज्योतिबा फुले

ज्योतिबा फुले

स्त्री मुक्ति के पक्षधर व जाति उन्मूलन आन्दोलन के योद्धा ज्योतिबा फुले आज ज्योतिबा फुले का स्मृतिदिन है। लगभग 169 वर्ष पहले ज्योतिबा फुले ने बालिकाओं के लिए पहला विद्यालय खोलने का निर्णय लिया था। विधवा विवाह का समर्थन, विधवाओं के बाल कटने से रोकने के लिए नाइयों की हड़ताल, …

Read More »

गुजरात के चुनाव पर एक नजर

बीजेपी गुजरात के चुनाव प्रचार में अपनी पूरी ताकत झोंक चुकी है. सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ख़ुद प्रचार का ज़िम्मा उठा लिया है. 27 नवंबर के बाद 29 नवंबर को भी वो रैलियां करेंगे. एक दिन में प्रधानमंत्री की 4-4 रैलियां हो रही हैं. प्रधानमंत्री की रैलियां सौराष्ट्र …

Read More »