Breaking News
Home / रिपोर्ट

रिपोर्ट

all_reports

आदिम जनजातियां हासिये पर: इनके हक़ के लिए बुलंद आवाज की जरूरत!

आदिम

वर्तमान झारखंड में अनुसूचित जनजाति की सूची के अंतर्गत 32 जनजातियों में से 9 आदिम जनजाति की श्रेणी में आते हैं। झारखंड में 1961 के दशक में इन जनजातियों का आबादी करीब 2,50,000 थी जो वर्तमान घटकर महज 2,00,000 के भीतर रह गई है। अद्यतन आंकड़े के अनुसार इस समय …

Read More »

मोदी युग में जीवनस्तर में वृधि के पैमाने के हर स्तर पर देश पिछड़ा

मोदी युग अर्थव्यवस्था

मोदी सरकार का एजेण्डा बिल्कुल साफ़ है कि लोग आपस में बँटकर लड़ते-मरते रहें और वे अपने पूँजीपति मालिकों की तिजोरियाँ भरते रहें।

Read More »

असली काला धन यहां छुपा है ‘पैराडाइज पेपर्स’ -मुकेश असीम

टैक्स पनाहगाह (Haven) क्या हैं और इनकी भूमिका पहले स्विस बैंकों, मॉरीशस और अब पनामा - इन टैक्स जन्नतों की चर्चा हमने सुनी है और ज्यादातर लोग इन्हें कुछ अपराधी संस्था जैसी चीज समझते हैं लेकिन ऐसा नहीं है, ये विश्व पूँजीवादी व्यवस्था का एक अहम हिस्सा हैं और उसके अन्तर्गत बिल्कुल कानूनी हैं। इनका जन्म २ तरह से हुआ - कुछ थोडे - स्विस बैंक, लक्जेमबर्ग, मोनाको, आदि

Read More »

कांग्रेस संघ के भवन की नींव है, भाजपा का विकल्‍प नहीं -मुकेश असीम

कांग्रेस संघ

31 अक्टूबर 1984 और उसके बाद के दिन बहुत भयावह थे जब इंदिरा गाँधी की हत्या के बाद कांग्रेस हुकूमत ने कांग्रेसी गुंडों और लूट के लालच में इकठ्ठा किये गए भाड़े के अपराधियों को खुली छूट दी थी हजारों निर्दोष सिक्खों का क़त्ल करने की।* यह सब पुलिस के …

Read More »

भारत को मीडियाकर्मियों के लिए एशिया का सबसे खतरनाक देश

मीडियाकर्मी

रिपोर्टर्स विदआउट बॉर्डर्स ने अपनी वाषिर्क रिपोर्ट में कहा है कि साल 2015 में दुनिया भर में कुल 110 पत्रकार मारे गए हैं, जिनमें नौ भारतीय पत्रकार शामिल हैं।

Read More »

भीड़ की हिंसा – समाज का हत्यारा चेहरा या बेचेहरा हत्यारा? (कविता कृष्णपल्लवी)

भीड़ की हिंसा

भीड़ की हिंसा -बेचेहरा हत्यारा या समाज का हत्यारा चेहरा ये अतिमहत्‍वपूर्ण लेख जरूर पढ़ें। थोड़ा लम्‍बा है पर जब आप पूरा पढ़ लेंगे तो आपको पता चल जायेगा कि इस अतिरिक्‍त आग्रह का क्‍या कारण है। पहली बार जब ख़बर आयी कि हमारे दोस्‍तों का कत्‍ल किया जा रहा …

Read More »

जय शाह का केस क्या है? क्या है इस मामले का अन्धरुनी सच

जय शाह

जय शाह ! अमित शाह के पुत्र  के पास 16000 गुना कमाई कहाँ से आई? जवाब मिला की राजेश खंडवाला से 15.78 करोड़ का ऋण लिया गया है, राजेश खंडवाला परिमल नथवाणी के संबंधी हैं, परिमल नथवाणी झारखण्ड से बीजेपी समर्थित राज्य सभा सांसद है और अम्बानी की रिलायंस कंपनी …

Read More »

धर्म परिवर्तन करनेवाले परिवारों का राशन-पानी बंद, क्या है पूरा मामला?

धर्म परिवर्तन

झारखण्ड, लातेहार जिले में  पेसरार पंचायत के रेहलदाग गांव में धर्म परिवर्तन करनेवाले एक दर्जन परिवारों का राशन-पानी गांववालों ने बंद कर दिया गया  है. इनका गुनाह सिर्फ इतना है कि इन्होंने दुर्गा पूजा चंदे की पूरी राशि नहीं दे पाए. नतीजतन इन परिवारों पर पुराना धर्म अपनाने का दबाव …

Read More »

आदिवासी महिला पार्वती मुर्मू को क्या मिल सकेगा मौजूदा सरकार से न्याय?

आदिवासी महिला पार्वती मुर्मू

रांची। चका चोंध और तामझाम के बिच नेता राजेंद्र जी का कार्यक्रम समाप्तिउपरांत राँची राज्यभवन के पास कथित धरना स्थल पर अफरातफरी मच गयी। पात्रकार भी उत्सुकतावस तफतीस के प्रयास में जुट गए कि आखिर मामला क्या है? पता चला कि गरीब जनता नेता जी के लिए नहीं बल्कि अपने …

Read More »

डेंगू फिर फैल रहा है। बात अभी भी वही है जो दो साल पहले थी।

डेंगू

मोटे तौर पर देखा जाए तो प्रति 1 लाख की जनसंख्या में से 88 लोग इस बीमारी का शिकार हर साल हो जाते हैं। जाहिर है कि ये आंकड़े देश के स्वास्थ्य की भयावह तस्वीर पेश करते हैं। लेकिन इससे भी भयावह वह तस्वीर है जो यह मानवता विरोधी व्यवस्था इन बीमारियों की रोकथाम और इलाज के दौरान प्रस्तुत करती है।

Read More »

झारखण्ड में भी भाजपा सरकार के खिलाफ विपक्ष ने भरी हुंकार

झारखण्ड हेमंत सोरेन

मेदिनीनगर ( झारखण्ड ) जिले के पांडू थाना क्षेत्र अंतर्गत रत्नाग के अनशनकारी किसान गुप्तेश्वर सह ने आरोप लगाया कि किसानों के साथ यह सरकार अन्याय कर रही है। वित्तीय वर्ष 2013-14 के फसल बीमा का भुगतान अब तक नहीं किया गया है। अविलंब भुगतान की मांग करते हुए वे …

Read More »

पत्रकार के घर घुसकर उन्हें एवं उनके परिवार को मारने की कोशिश -मयंक कुमार

पत्रकार मयंक कुमार

ब्यूरो वाराणसी। रोहनिया थाना अंतर्गत ग्राम – देऊरा, पोस्ट- काशीपुर, जिला- वाराणसी का मयंक कुमार पुत्र बाल गोविंद राम मूल निवासी एवं पेसे से पत्रकार है। काफी दिनों से इनके ही गांव के रहने वाले, कमला पटेल, फुल गेना पति शारदा पाल, लालमनी पाल पति लल्लन पाल, मंजू पाल पत्नी …

Read More »

गोरक्षा : गाली देते हुए कहते हैं, जिसको खाना है खाए, न खाना हो न खाए!

गोरक्षा

सरकार की गोरक्षा के चक्कर में पशुधन ही किसानों का दुश्मन हो गया है’ ग्राउंड रिपोर्ट: अब खेती में बैलों का उपयोग नहीं होता। सरकार की गोरक्षा अभियान के तहत बूचड़खाने बंद होने के बाद उन्हें ख़रीदने वाला भी कोई नहीं। बड़ी संख्या में आवारा जानवर खेतों को तबाह कर …

Read More »

माला जाति के 1200 दलितों का साामाजिक बहिष्कार जारी -आनन्द सिंह

माला जाति के 1200 दलितों

तटीय आन्ध्र में जाति‍ व्यवस्था के बर्बर रूप की बानगी चार महीने से भी अधिक समय से जारी है माला जाति के 1200 दलितों का साामाजिक बहिष्कार… महात्मा गाँधी की मूर्तियों के बग़ल में अम्बेडकर की मूर्ति स्थापित करने के कारण माला जाति के 1200 दलितों का साामाजिक बहिष्कार राम …

Read More »

बेरोज़गार हैं 40 प्रतिशत, कौन है इसका जि़म्मेदार? -मुनीश मैन्दोला

बेरोज़गार हैं 40 प्रतिशत

सरकार का 2 करोड़ प्रति वर्ष नयी नौकरियों के सृजन का वादा भी ”रामराज्य” वाली  सरकार के हर वादे की तरह झूठा निकला! खोदा पहाड़, निकला कॉक्रोच! केन्द्रीय श्रम मन्त्री बण्डारू दत्तात्रेय ने 6 फ़रवरी 2017 को लोकसभा में बताया कि 2013-14 में बेरोज़गारी की दर 3.4 प्रतिशत थी जो …

Read More »

मज़दूरों और छात्रों पर इन नीतियों ने कहर बरपाना शुरू कर दिया है – बिगुल

मज़दूरों और छात्रों

उदारीकरण-निजीकरण की नीतियों के ढाई दशक बीतने के बाद पूरे देश में कर्मचारियों, मज़दूरों और छात्रों पर इन नीतियों ने कहर बरपाना शुरू कर दिया है। अभी हाल ही में इलाहाबाद में स्वास्थ्य कर्मियों ने एक दिवसीय हड़ताल करके मुख्य चिकित्सा अधिकारी का घेराव किया। यह हड़ताल अधिकारियों के भ्रष्टाचार, …

Read More »

दुर्घटना सिर्फ उसी स्‍टेशन पर नहीं बल्कि बहुत अन्‍य स्‍टेशन पर इंतजार कर रही है

दुर्घटना

मुम्‍बई में हुई 22 लोगों की मौत दुर्घटना नहीं बल्कि हत्‍या है- नौजवान भारत सभा मुंबई में एक बेहद दर्दनाक घटना घटी। एलफिन्‍सटन रोड़ व परेल स्‍टेशन के बीच के एक बेहद पतले पुल पर भगदड़ मचने से 22 लोगों की मृत्‍यु हो गई व 30 से ज्‍यादा घायल हो …

Read More »

BHU छात्राओं पर रात बारह बजे के करीब लाठीचार्ज की रिपोर्ट वहां मौजूद पत्रकार से

मैं BHU से बोल रहा हूं. Siddhant Mohan यहां BHU के अंदर महिला महाविद्यालय है. रात बारह के करीब पुलिस ने जिलाधिकारी की मौजूदगी में बीएचयू के मेन गेट पर बैठे छात्रों और छात्राओं पर लाठीचार्ज कर दिया. लड़के भागे अंदर. तो पुलिस ने भी दौड़ा लिया अंदर तक. लड़कियां …

Read More »

मानव का स्वभाव मूलरूप से विनाशकारी है, पर्यावरणविद व वैज्ञानिक के तर्क -नवमीत

मानव का स्वभाव

मानव का स्वभाव मूलरूप से विनाशकारी है, पूँजीवाद और महाविनाश की आहट पृथ्वी यूँ तो ब्रह्माण्ड का एक बहुत ही छोटा सा हिस्सा है। लेकिन साथ ही यह सबसे विशिष्ट हिस्सा भी है। इस विशिष्टता का कारण यह है कि पृथ्वी ही एकमात्र ज्ञात स्थान है जहाँ ब्रह्माण्ड की सबसे …

Read More »

मेक इन इण्डिया ’ : वीवो इण्डिया में मज़दूरों का शोषण और उत्पीड़न

मेक इन इण्डिया

मेक इन इण्डिया ’ वीवो इण्डिया में मज़दूरों का शोषण और उत्पीड़न सिजो जॉय और अनुष्का सिंह सचिव, पीयूडीआर मेक इन इण्डिया ’ अभियान और बहुराष्ट्रीय कम्पनियों को भारत में निर्माण करने के लिए न्यौता देने से रोज़गार पैदा होने के इसके दावे को काम के भयावह और अमानवीय ‘अवसरों’ …

Read More »