Breaking News

Recent Posts

इतने पैसों में जाने कितने गरीबों का पेट भर जाता ???

किसी महंगी कार, ऑडी, बी.एम.डब्ल्यू. जैसी को देखते ही, “इतने पैसों में जाने कितने गरीबों का पेट भर जाता”, कह कर ताना देना कोई नयी बात तो नहीं है | साम्यवादियों-समाजवादियों के मूंह से कभी ना कभी सुना ही होगा | सवाल है कि कैसे खिलाते गरीबों को ? उन …

Read More »

कैंसर पीड़ितों का सहारा बने हरकचंद सावला कि चेरिटेबिल संस्था

करीब तीस साल का एक युवक मुंबई के प्रसिद्ध टाटा कैंसर अस्पताल के सामने फुटपाथ पर खड़ा था। युवक वहां अस्पताल की सीढिय़ों पर मौत के द्वार पर खड़े मरीजों को बड़े ध्यान दे देख रहा था, जिनके चेहरों पर दर्द और विवषता का भाव स्पष्ट नजर आ रहा था। …

Read More »

मम्मी पापा

फ़ोन की घंटी तो सुनी मगर आलस की वजह से रजाई में ही लेटी रही। उसके पति राहुल को आखिर उठना ही पड़ा। दूसरे कमरे में पड़े फ़ोन की घंटी बजती ही जा रही थी।इतनी सुबह कौन हो सकता है जो सोने भी नहीं देता, इसी चिड़चिड़ाहट में उसने फ़ोन …

Read More »