Breaking News

Recent Posts

यह खामोशी क्यों?

आर्थिक सुधारों की लम्बी-चौड़ी कवायद के बावजूद रोजगार के अवसरों में कमी देश की आर्थिक सेहत के लिए शुभ संकेत नहीं माना जा सकता रिजर्व बैंक के सर्वे के मुताबिक नौकरी के मामले में देश 2013 के बाद सबसे बुरे दौर से गुजर रहा है। तमाम सरकारी दावों के बावजूद मेक इन इण्डिया और स्टार्ट […]

Read More »

बंगला मोह सबसे न्यारा

व्यंग्य राही की कलम से रामलीला प्रदर्शन में सर्वप्रथम नारदमोह लीला खेली जाती है। सब जानते हैं कि देवर्षि नारद का मोहभंग करने के लिए विष्णु ने मोहिनी बन उन्हें मोहित कर लिया और मुंह कपि यानी बंदर सा बनाकर स्वयंवर में भेज दिया था। जैसे नारद को रूप मोह हुआ, एक कंजूस को धन […]

Read More »

ब्रिटेन के चुनावों में कंजर्वेटिव पार्टी बहुमत पाने में विफल गठबंधन सरकार बनाने की कोशिशें

डेविड कैमरून द्वारा जनमत संग्रह के जरिए यूरोपीय संघ से ब्रिटेन के बाहर आने के बाद प्रधानमंत्री पद से त्यागपत्र देने के परिणामस्वरूप कंजर्वेटिव पार्टी की ‘टैरेसा मैरी मे’ 1& जुलाई, 2016 को ब्रिटेन की दूसरी महिला प्रधानमंत्री बनीं। उनसे पहले ‘आयरन लेडी’ के नाम से प्रसिद्ध मारग्रेट थैचर 4 मई 1979 से 28 नवम्बर […]

Read More »
  • “मैं हूँ नेता “

    पहले कीमतें मैंने बढाई फिर मैंने कहा मेरे पास जादू की छड़ी नहीं है भाई जो मैंने यूँ घुमाई और खत्म हो जाएगी महंगाई मैं हूँ नेता , कुछ नही देता बस लेता ही लेता कभी मैं तुमसे नोट लेता कभी मैं तुमसे वोट लेता और बदले में लूट लेता …

    Read More »